Home / Hindi Shayari / जो तूने दिए थे कभी.. / Jo tune diye the kabhi..

जो तूने दिए थे कभी.. / Jo tune diye the kabhi..

/
/
/
77 Views

Hindi Poetry in Hindi

जो तूने दिए थे कभी..उन सारे गमों को
एक जगह छाँटकर..अच्छी तरह देख दाखकर
कौनसा वाला ग़म ज़्यादा क़ीमती है
यही हिसाब लगा रही हूँ

अपनी साँसों की डोर में
हर रात इन्हें पिरोती
चुभते ये बहुत..फिर भी
इन्हें सीने से लगाकर सोती

सुना है यहाँ ग़म भी चुराते है लोग..

 

Hindi Poetry in English

Jo tune diye the kabhi..unn saare ghamon ko
ek jagah chhatkar..achhi tarah dekh daakhkar
konsa wala ghum jyada qeemti hai
yahi hisaab laga rahi hun

Apni saanson ki dor mein mein
har raat inhe piroti
chubhte ye bahut..phir bhi
inhe seene se lagaakar soti

Suna hai yahan ghum bhi churate hain log..

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *