Author: Anupama

Home / (Page 4)

Hindi Shayari in Hindi कुछ इस तरह हटालीं अपनी निगाहें मेरे चेहरे से उसने अब तो उसे..मेरा चेहरा देखना भी..गवारा ना रहा अक्सर ढूँढते थे जिन में..ख़ुद…

Hindi Shayari in Hindi तेरी यादों ने थामा है..मेरा हाथ..कुछ इस तरह के ये रिश्ता अब..मुझ से ना तोड़ा जाएगा गुज़ारिश है तुझ से..ना लौटना मेरी ज़िंदगी…

 Hindi Shayari in Hindi बहुत सी शिक़ायतें हैं मुझे तुझ से..कई गिलें हैं सोचा के आज तुझे अपने ख़्वाब में बुलाकर तुझसे जी भर कर..लड़ेंगे..झगदेंगे तू आने…

1 3 4 5 10