Category: Hindi Shayari

Home / (Page 2)

Hindi Shayari in Hindi उसे छोड़ना सही था या ग़लत..पता नहीं बस मुझे खोने का एहसास उसकी आँखों में देखना था जानती थी वो मुझे खोकर टूटेगा…

Hindi Shayari in Hindi अपनी ही उंगली पकड़ कर..मैं ख़ुद को वहाँ ले गयी जहाँ हमेशा से पहुचना चाहती थी नींद टूटी..आँखें खुली..पर मैं अब भी उसी…

Hindi Shayari in Hindi बारूद बिछा रखीं हैं बागबाँ ने गुलिस्ताँ में यहाँ फूटे जो बीज..मौत का मातम देंगे सींच रहा हर पौधे को..नफ़रतों से अपनी पेड़…

Hindi Shayari in Hindi यूँ नीलाम हुआ हर ख़्वाब..बोली लगी हर तमन्ना की देखिए हर कोई यहाँ..इस नुमाइश में आ गया जिसकी चाहत के अश्कों में..भीगति रही…