Sad Shayari in Hindi उसने तो कब से सजाली नयी चूड़ियाँ..उन्हे भूलकर जो चूड़ियाँ कभी टूटी थी मुझसे..उसकी कलाई में तबसे मैं..वही टुकड़े लिए जोड़ रहा..सोच रहा क्या…