Home / Hindi Shayari / सिर्फ़ अपनी बातों से.. / Sirf apni baaton se..

सिर्फ़ अपनी बातों से.. / Sirf apni baaton se..

/
/
/
75 Views

Hindi Poetry in Hindi

हमें अपने आप से अंजान कर गया
सिर्फ़ अपनी बातों से वो ये काम कर गया

अब मन के हर कोने में सवेरे ही सवेरे हैं
एक नूर-ए-सुकु मन को रोशन सा कर गया

ना चाहेंगे किसिको ये सोचते रहे
हर बार अपने दिल को हम रोकते रहे

कोशिशें मेरी सारी ख़ुद को संभालने की
अपनी सच्चाइयों से नाकाम कर गया

सिर्फ़ अपनी बातों से वो ये काम कर गया..

 

Hindi Poetry in English

Humein apne aap se anjaan kar gaya
sirf apni baaton se wo ye kaam kar gaya

abb mann ke har kone mein savere hi savere hain
ek noor-e-suku mann ko roshan sa kar gaya

Na chahenge kisiko ye sochte rahe
har baar apne dil ko hum rokte rahe

koshishen meri saari khud ko sambhalne ki
apni sachchaiyon se nakaam kar gaya

Sirf apni baaton se wo ye kaam kar gaya..

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *